गणेश विसर्जन के दिन भूल से भी ना करे 7 गलती वरना आपकी पूरी पूजा हो जायेगी बर्बाद

ऐसा अकसर मनुष्य के साथ होता है कि वो कड़ी मेहनत करके पैसा कमाता है, अपने घर में सुख-समृद्धि लाने का हर संभव प्रयास करता है लेकिन ना जाने क्यों वे खुशी के पल कुछ ही समय के लिए उसके जीवन में रहते हैं.

घर में आई लक्ष्मी कब आई और कब चली भी गई, मनुष्य को इसका आभास भी नहीं होता है. ऐसे में दिक्कत व परेशानी का पहाड़ उसके सिर पर फूट जाता है. घर में सुख शांति रहे तथा माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद रहे इसलिए लोग तुलसी का पौधा घर में स्थापित करते है

पुराणों में ऐसी मान्यता है की इससे सीधे हमारे घर में देवी देवताओ की कृपा होती है. परन्तु दोस्तों कलयुग का प्रभाव इतना गहरा हो चूका है की भगवान तक हमारी प्राथना पहुंच ही नहीं पाती तथा देवीय वस्तुवे जैसे तुलसी के पौधे आदि के द्वारा भी हमे विशेष लाभ नहीं हो पाता.

पर दोस्तों हर मुश्किल चीज़ को पाना का कोई न कोई रास्ता होता है तथा पुराणों के अनुसार स्वयं भगवान श्री कृष्ण ने कहा था की कलयुग में मन्त्र ही एक सहारा होगा जिसके द्वारा व्यक्ति की कोई भी प्राथना सीधे मुझ तक पहुंचेगी.

आज हम आपको एक ऐसे मन्त्र के बारे में बताने जा रहे है जिसे तुलसी के पौधे सामने जपने पर आपकी मनोकामना सीधे भगवान तक पहुंचेगी और वह पूरी होगी. तथा आपको तुलसी पूरी शक्ति आपके घर में देखने को मिलेगी.

आपकी सभी परेशानिया, बीमारिया, कर्ज, नौकरी से संबंधी परेशानी खत्म होगी. तथा आपका घर धन धान्य से भर जाएगा. समाज में आपकी पूछ होने लगेगी. जहा भी आप जाएंगे आपको सब आदर सम्मान देंगे.

दोस्तों इस मन्त्र के जाप के लिए आपको एक विशेष माला की आवश्यकता होगी जिसे तुलसी माला कहते है. यदि इस माला के साथ आपने तुलसी मन्त्र का 108 बार जप किया तो आपकी जैसी भी मनोकामना होगी समझो वह पूरी हो चुकी है.

दोस्तों तुलसी के पौधे, तुलसी की माला और तुलसी मन्त्र के बिच एक कनेक्शन होता है. जब हम मन्त्र पढ़ते है तो यह एक दिव्य ऊर्जा का निर्माण करते है तथा वह इतनी शक्तिशाली होती है की भगवान को आपकी इच्छा पूरी करने के लिए विवश होना पड़ता है.

परन्तु दोस्तों ध्यान रहे तुलसी की माला को साधारण नहीं बल्कि अभिमंत्रित होना आवश्यक है. दोस्तों अगर आपके पास अभिमंत्रित माला न हो तो आप इसे निचे दिए डिस्क्रिप्शन लिंक से माँगा सकते है.

यह हमारे विद्वान पंडितो द्वारा अभिमंत्रित करि पवित्र एवं शुद्ध माला है. इस किसी जाप के लिए उपयोग में लाने पर उसका असर उसी समय दिखने लगता है.

दोस्तों अब जानते है आपको इस मन्त्र का जाप कैसे करना है.

दोस्तों इस मन्त्र के जाप के लिए आप सुबह स्नान आदि कर घर के मंदिर को गंगा जल छिड़क कर पवित्र कर ले. फिर भगवान विष्णु की पूजा करने के बाद आप तुलसी में जब जल डाल रहे हो तो तुलसी माता और विष्णु जी का ध्यान करे. अब तुलसी की माला अपने हाथ में लेकर 108 बार ये मन्त्र बोले.

तुलसी मन्त्र :

महाप्रसाद जननी सर्वसौभाग्यवर्धिनी।
आधि व्याधि जरा मुक्तं तुलसी त्वाम नमोस्तुते

अब अंत में आप अपनी मनोंकामना बोल भगवान उसे पूरी करने की प्राथना बोले. जो भी इच्छा, जैसी भी इच्छा आप की होगी तुरंत पूरी हो जायेगी. इसके साथ आपके घर में धन धान्य की वर्षा होने लगेगी. दुनिया के सारे सुख आपके झोली में आ जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *