सावन माह में किसी भी दिन शिव मंदिर से घर ले आये ये एक चीज़, जीवन में कभी नहीं होगी धन की कमी

दोस्तों आज सावन महीने का दूसरा सोमवार है और इस पूरे महीने सात्‍व‍िक धर्म का पालन करने की परंपरा है. सावन के व्रत और कथा के बारे में तो लगभग हर कोई जानता है.

और दोस्तों आज में आपको सावन महा के इस पवित्र महीने की 5 ऐसी चीज़ो के बारे में बताने जा रहा हु यदि आप इन 5 चीज़ो में से एक भी किसी सिव मंदिर से ले आते हो तो

आपको कभी भी धन की कमी नहीं होगी और साथ ही आपके सभी काम बनने लगेंगे और घर में हमेशा सुःख शांति बन्हि रहेगी तो आइये दोस्तों जानते है इन 5 चीज़ो के बारे में

1 . त्रिशूल : त्रिशूल हमेशा शिव के हाथों में होता है. यह तीन देव और तीन लोकों का प्रतीक है. सावन महीने के पहले दिन चांदी का त्रिशूल लाने से वर्ष भर आपदाओं से रक्षा होती है.

2. रुद्राक्ष : सुख, सौभाग्य और समृद्धि के लिए तथा मन की पवित्रता के लिए असली रुद्राक्ष को घर में लाएं. घर में रखे रुद्राक्ष को चांदी में गढ़वा कर भी पहन सकते हैं. यह जीवन के लिए अत्यंत शुभ और समृद्धिदायक होगा.

3. डमरू : यह शिव का पवित्र वाद्य यंत्र है. इसकी ध्वनि से आसपास की नकारात्मक शक्तियां दूर भागती हैं. आरोग्य के लिए भी डमरू की ध्वनि असरकारक मानी गई है. सावन मास के पहले दिन डमरू घर लाकर रखें और अंतिम दिन किसी बच्चे को यह डमरू उपहार में दें.

4. जल पात्र : चाहें तो सावन मास के पहले दिन गंगाजल लाकर घर में रखें और माह भर पूजन करें. अगर यह संभव नहीं है तो चांदी, तांबे या पीतल का पात्र लाकर उसमें शुद्ध जल भरें और प्रतिदिन उससे शिवजी को जल अर्पित कर पुन: भरकर रख दें. यह प्रयोग धन के आगमन के लिए सबसे अधिक प्रभावी है

5 . चांदी की डिब्बी में भस्म : किसी भी शिव मंदिर से भस्म लाकर उसे नई चांदी की डिब्बी में रखें. माह भर उसे पूजन में शामिल करें और बाद में तिजोरी में रख दें. बरकत के लिए यह अचूक प्रयोग है.

दोस्तों आज सावन महीने का दूसरा सोमवार है और इस पूरे महीने सात्‍व‍िक धर्म का पालन करने की परंपरा है. सावन के व्रत और कथा के बारे में तो लगभग हर कोई जानता है.

और दोस्तों आज में आपको सावन महा के इस पवित्र महीने की 5 ऐसी चीज़ो के बारे में बताने जा रहा हु यदि आप इन 5 चीज़ो में से एक भी किसी सिव मंदिर से ले आते हो तो

आपको कभी भी धन की कमी नहीं होगी और साथ ही आपके सभी काम बनने लगेंगे और घर में हमेशा सुःख शांति बन्हि रहेगी तो आइये दोस्तों जानते है इन 5 चीज़ो के बारे में

1 . त्रिशूल : त्रिशूल हमेशा शिव के हाथों में होता है. यह तीन देव और तीन लोकों का प्रतीक है. सावन महीने के पहले दिन चांदी का त्रिशूल लाने से वर्ष भर आपदाओं से रक्षा होती है.

2. रुद्राक्ष : सुख, सौभाग्य और समृद्धि के लिए तथा मन की पवित्रता के लिए असली रुद्राक्ष को घर में लाएं. घर में रखे रुद्राक्ष को चांदी में गढ़वा कर भी पहन सकते हैं. यह जीवन के लिए अत्यंत शुभ और समृद्धिदायक होगा.

3. डमरू : यह शिव का पवित्र वाद्य यंत्र है. इसकी ध्वनि से आसपास की नकारात्मक शक्तियां दूर भागती हैं. आरोग्य के लिए भी डमरू की ध्वनि असरकारक मानी गई है. सावन मास के पहले दिन डमरू घर लाकर रखें और अंतिम दिन किसी बच्चे को यह डमरू उपहार में दें.

4. जल पात्र : चाहें तो सावन मास के पहले दिन गंगाजल लाकर घर में रखें और माह भर पूजन करें. अगर यह संभव नहीं है तो चांदी, तांबे या पीतल का पात्र लाकर उसमें शुद्ध जल भरें और प्रतिदिन उससे शिवजी को जल अर्पित कर पुन: भरकर रख दें. यह प्रयोग धन के आगमन के लिए सबसे अधिक प्रभावी है

5 . चांदी की डिब्बी में भस्म : किसी भी शिव मंदिर से भस्म लाकर उसे नई चांदी की डिब्बी में रखें. माह भर उसे पूजन में शामिल करें और बाद में तिजोरी में रख दें. बरकत के लिए यह अचूक प्रयोग है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *